Saturday, 5 May 2018

देश में बढ़ता गन कल्चर

हम अकसर अमेरिका में गन कल्चर की बात करते हैं। बात-बात में बंदूक चलाना, हत्या करना यह अब अमेरिका तक सीमित नहीं रहा। हमारे देश में भी यह समस्या बहुत तेजी से बढ़ रही है। आए दिन हम सुनते हैं, पढ़ते हैं फलां विवाद को लेकर गोलियां चल गईं। कल ही द्वारका (दिल्ली) के सैक्टर-23 थाना क्षेत्र में उस समय दहशत फैल गई जब नकाबपोश बदमाशों ने करीब 40 राउंड गोलियां चलाईं और कुख्यात बदमाश संदीप उर्प मेंटल व उसके साथी पवन मान को भून डाला। कुछ दिन पहले दिल्ली के हौजखास स्थित अपने क्लीनिक से घर जाने के लिए डाक्टर हंसराज नागर पर घात लगाए बैठे तीन-चार हमलावरों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की। जवाब में 71 वर्षीय डाक्टर नागर ने भी अपने लाइसेंसी पिस्टल से गोलियां चलाईं। दोनों ओर से करीब 25 राउंड गोलियां चलीं। वारदात के बाद हमलावर फरार हो गए। तीन गोलियां लगने से घायल डॉ. नागर को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सवारी बिठाने को लेकर हुए झगड़े के बाद रविवार रात को झड़ौदा कलां गांव गोलियों की गूंज से दहल गया। इसमें एक आरटीवी ड्राइवर की मौत हो गई, जिन्हें छह गोलियां मारी गईं। अडिशनल डीसीपी संतोष मीणा के अनुसार मृतक 27 साल के जितेन्द्र उर्प जीतू गुड़गांव-बहादुरगढ़ रूट पर आरटीवी चलाता था। आरोपी ड्राइवर सुधीर कैब चलाता है, जो इसी रूट की सवारियां बिठाता था। इन दोनों के बीच पिछले कई दिनों से पैसेंजर बिठाने को लेकर विवाद चल रहा था। रविवार रात 11.30 बजे हरियाणा बॉर्डर स्थित झड़ौदा कलां गांव में जीतू अपनी ड्यूटी खत्म करने के बाद घर की तरफ जा रहा था तभी आरोपी सुधीर और उसके दो साथियों ने आठ राउंड फायरिंग कर दी, जिसमें छह गोलियां जीतू को लगीं और उनकी मौके पर ही मौत हो गई। दिल्ली के द्वारका में कुछ अज्ञात लोगों ने बुधवार को कार सवार दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी। पुलिस ने बताया कि मृतकों की पहचान संदीप और पवन उर्प पोइन के तौर पर हुई है। हत्यारे फरार हैं। एक बहुत अजीबो-गरीब किस्सा उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी के सीतापुर में घटा। विवाह समारोह के दौरान हर्ष फायरिंग करने से दूल्हे की ही मौत हो गई। गोली चलाने वाला और कोई नहीं बल्कि दूल्हे का ही दोस्त निकला। थाना नीम गांव के गांव रामपुर निवासी रवीन्द्र कुमार वर्मा के घर बारात पहुंची। लोग खुशी से नाचते-झूमते दुल्हन रूबी वर्मा के दरवाजे पर पहुंचे। द्वार पूजा के लिए सुनील को बिठाया गया तभी दूल्हे के दोस्त रामचन्द्र ने रिवॉल्वर से हर्ष फायर कर दिया जिससे हर्ष फायरिंग की गोली उनके दोस्त सुनील को लग गई और उसकी उसी वक्त मृत्यु हो गई।

-अनिल नरेन्द्र

No comments:

Post a comment