Tuesday, 19 June 2018

... और अब दाती महाराज पर लगा दुष्कर्म का आरोप

छतरपुर दिल्ली स्थित शनिधाम मंदिर के संस्थापक दाती महाराज उर्प मदन लाल के खिलाफ एक महिला ने दुष्कर्म का आरोप लगाकर उनके भक्तों को चौंका दिया है। दाती महाराज पर दर्ज दुष्कर्म के मामले में पीड़ित युवती को दिल्ली पुलिस के डीसीपी राजेश देव की अगुवाई में टीम ने युवती को साथ लेकर शनिधाम मंदिर पहुंची। लड़की ने उस रूम की पहचान की जिसमें दाती महाराज ने रेप की वारदात को अंजाम दिया था। पुलिस टीम ने कमरे के चप्पे-चप्पे की तलाशी ली पर सबूत के नाम पर कुछ हाथ नहीं लगा। इसके बाद पीड़िता पुलिस टीम को स्टेज के पीछे बने एक बड़े हॉल में लेकर गई। लड़की ने बताया कि उसके साथ दो-तीन दूसरे लोगों ने भी रेप किया था। पुलिस अधिकारियों ने बताया कि लड़की ने जिस आत्मविश्वास के साथ एक-एक करके शनिधाम के अंदर की जगहों को पहचाना जहां पर उसके साथ दुष्कर्म हुआ, इससे साफ जाहिर होता है कि उसकी बातों में सच्चाई है। इसके बाद रेप केस में मुख्य आरोपी दाती महाराज को जांच में शामिल होने के लिए नोटिस जारी किया गया है। दाती महाराज पर दर्ज दुष्कर्म मामले में पीड़ित युवती ने आरोप लगाया है कि उसके साथ दाती महाराज समेत चार लोगों ने दुष्कर्म किया। इस दौरान उसे पेशाब भी पिलाया गया। पीड़िता ने मंगलवार को साकेत कोर्ट में ज्यूरी एमएम के सामने 164 के तहत बयान में यह खुलासा किया है। वहीं मेडिकल करने वाले डाक्टरों ने पुलिस को लिखकर दिया है कि युवती डिप्रैशन का शिकार हो गई है। अपराध शाखा के अधिकारियों के अनुसार स्नेहा (बदला हुआ नाम) ने बयान में कहा है कि नौ जनवरी 2016 को संस्थान की नीतू उसे चरण सेवा के लिए दाती महाराज के पास ले गई। जहां महाराज, अशोक, अर्जुन व नीमा जोशी ने उसके साथ अलग-अलग दुष्कर्म किया। 26-28 मार्च को उसे पाली स्थित आश्रम में ले जाया गया। जहां दाती महाराज ने उसके साथ दुष्कर्म किया। दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने जैसे ही कार्रवाई तेज की दाती महाराज उर्प मदन लाल गायब हो गए। राजस्थान के पाली स्थित आश्रम के सूत्रों ने बताया कि शुक्रवार सुबह से ही महाराज गायब हैं। किसी को नहीं पता कि आखिर वह कहां गए। महाराज का मोबाइल भी बंद है। आरोपी दाती महाराज की जल्द ही गिरफ्तारी हो सकती है। उधर आरोपों से घिरे दाती महाराज का कहना है कि वह कहीं नहीं भागेगा, पुलिस के सामने पेश होने के लिए उसे कुछ समय चाहिए, क्योंकि उसके आश्रम में रहने वाले बच्चों के लिए भोजन आदि का सालभर की व्यवस्था करनी है। पाली स्थित आश्रम में दाती महाराज शुक्रवार को फिर नजर आया। उन्होंने कहाöमुझे भागना होता तो मैं पहले ही भाग जाता, लेकिन मामला सामने आने के बाद से मैं लगातार यहीं हूं। मैं जल्द ही पुलिस के सामने पेश होऊंगा। मैं जैन की साजिश का शिकार हुआ हूं और उस व्यक्ति ने मुझे बर्बाद करने की धमकी दी थी।

No comments:

Post a comment