Friday, 29 July 2016

18 साल पुराने चिंकारा-हिरण केस में सलमान बरी

1998 में फिल्म हम साथ-साथ हैं की शूटिंग के दौरान जोधपुर के घोड़ा फार्म हाउस में चिंकारा और भवाद गांव में हिरण शिकार के मामले में फिल्म अभिनेता सलमान खान के बरी होने की सुखद खबर आई है। 1998 की 26-27 सितम्बर को यह कथित शिकार हुआ था। 18 साल बाद अदालत के चक्कर काट-काट कर सलमान के जूतों की हील घिस गई। अंतत राजस्थान हाई कोर्ट ने उनको इस केस में बरी कर दिया है। अदालत ने सोमवार को अपने फैसले में कहा कि चिंकारा के शरीर में जो छर्रे मिले, वे सलमान की लाइसेंसी बंदूक के नहीं थे। अदालत ने चिंकारा से जुड़े दो मामलों में 18 साल की लंबी कानूनी लड़ाई के बाद सलमान को यह राहत दी। निचली अदालत ने दो मामलों में सलमान को एक और पांच साल की सजा सुनाई थी। लेकिन हाई कोर्ट ने इनके खिलाफ लगाई गई याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए दोनों सजाओं को रद्द कर दिया। अदालत ने इस मामले में राज्य सरकार की तीनों अपीलों को भी खारिज कर दिया। राजस्थान सरकार ने कहा है कि वह हाई कोर्ट के इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती देगी। हालांकि सलमान के खिलाफ कांकाणी हिरण शिकार मामला और अवैध हथियार रखने का केस चलता रहेगा। इससे पहले बॉम्बे हाई कोर्ट ने सलमान को हिट एंड रन मामले में भी बरी कर दिया था। यह केस भी सुप्रीम कोर्ट में है। राजस्थान हाई कोर्ट ने सलमान को इस बिनाह पर बरी किया ः चश्मदीद गवाह गायब हो गया था। उसके कारण ही सभी सह-अभियुक्त बरी हुए। सलमान तो उसे कोर्ट में पेश कराने का आग्रह कर रहा था। जिप्सी मालिक अरुण यादव ने कहा कि उसने जिप्सी में कोई खून नहीं देखा। होटल व मौके से लिए ब्लड सैम्पल मेल नहीं खाते। एफएसएल में यह स्पष्ट नहीं कि ब्लड सैम्पल हिरण का है। शिकार रिवाल्वर, राइफल या एयर गन से हुआ ये साबित नहीं हो पाया। जिप्सी में मिले छर्रे सलमान के हथियार से निकले नहीं थे। वाशिंग के 10 दिन बाद पुलिस को जिप्पी में छर्रे कैसे मिले? ब्लड सैम्पल लेते वक्त गवाह बना रामकिशन भी मुकर गया। बता दें कि हिरण शिकार के तीन मामलों में सलमान खान पुलिस व न्यायिक हिरासत को मिलाकर 18 दिन जेल में रह चुके हैं। वन विभाग ने सलमान को पहली बार 12 अक्तूबर 1998 को हिरासत में लिया था। वह 17 अक्तूबर तक जेल में रहे। इसके बाद घोड़ा फार्म मामले में 10 अप्रैल 2006 को सलमान को निचली अदालत ने पांच साल की सजा सुनाई थी जिसके तुरन्त बाद वे छह दिन जेल में रहे। सत्र न्यायालय ने भी इस सजा को बरकरार रखा और उन्होंने 26 से 31 अगस्त 2007 तक के दिन जेल में काटे। सलमान एक नेक और अच्छे इंसान हैं और वह बहुत से नेक काम करते रहते हैं। मैं समझता हूं कि अगर उनसे गलती हुई भी हो तो काफी सजा भुगत चुके हैं। हम उम्मीद करते हैं कि भविष्य में वह कानों को हाथ लगाएंगे।

No comments:

Post a comment